बड़ी ख़बरें

पंचतत्व में विलीन हुए महाकवि गोपालदास नीरज लखनऊ विश्वविद्यालय मामला : राज्यपाल से मिला सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल इस मामले में शाहरुख पर बिल्कुल भरोसा नहीं करतीं गौरी खान! तीसरे टी20 में रोहित शर्मा नहीं, 18 गेंदों ने किया इंग्लैंड का 'काम-तमाम'! थाईलैंडः बौद्ध भिक्षु रह चुका है गुफा में फंसा कोच, बच्चों को इतने दिन यूं रखा जिंदा ब्रिटेन में घर मेरे नाम पर नहीं, कोई इन्‍हें छू भी नहीं सकता: विजय माल्‍या कुख्यात डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या, योगी ने दिए न्यायिक जांच के आदेश बुरहान की दूसरी बरसी पर हिज्बुल में शामिल हुआ IPS ऑफिसर का भाई, मेडिकल की कर रहा था पढ़ाई नाम में क्‍या रखा है? इन आशा वर्कर्स से पूछिए जो इसी नाम का कंडोम बांटती हैं तो ऐसे प्रेम प्रकाश सिंह बन गया माफिया डॉन 'मुन्ना बजरंगी', ये अब तक की 'पूरी कहानी'

मिर्जापुर, उत्तर प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर बुधवार को मिर्जापुर पहुंचे बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 के मद्देनजर तीन प्रांतों के पदाधिकारियों और विस्तारकों के साथ दो चरणों में बैठक की. अमित शाह ने अवध, काशी और गोरक्ष प्रांत के संगठन पदाधिकारियों और विस्तारकों से मिशन 2019 को लेकर क़रीब 23 बिंदुओं पर चर्चा की. इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ और दोनों डिप्टी सीएम केशव मौर्य व डॉ दिनेश शर्मा, प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेंद्रनाथ पांडेय भी मौजूद रहे.

कहा जा रहा है कि बीजेपी अध्यक्ष ने पदाधिकारियों से सांसदों और विधायकों की परफॉरमेंस का फीडबैक भी लिया. जिसके आधार पर ही मौजूद सांसदों भविष्य का फैसला होगा. पदाधिकारियों के फीडबैक के आधार पर ही सांसदों को अगले चुनाव में टिकट मिलेगा की नहीं, इस पर फैसला किया जाएगा.

इसके अलावा अमित शाह ने यूपी मंत्रीमंडल में प्रस्तावित फेरबदल पर भी चर्चा की. साथ ही पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को वोट प्रतिशत बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करने को कहा. उन्होंने कहा कि 2017 के चुनाव में सपा-बसपा को जोड़कर 50 प्रतिशत से ज़्यादा वोट मिले थे. लिहाजा नए कार्यकर्ताओं को जोड़ने का उन्होंने मंत्र दिया. उन्होंने चार साल के विकास को आधार बनाकर विरोधियों को घेरने की रणनीति भी समझायी.

इसके बाद अमित शाह दीनदयाल हस्तकला संकुल में तीन प्रांतों के सोशल मीडिया वालंटियर्स को संबोधित करेंगे और विरोधियों को चित करने के टिप्स देंगे.

इससे पहले बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने केंद्रीय कैबिनेट में खरीफ फसलों की न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को डेढ़ गुना करने के फैसले को ऐतिहासिक बताया. विंध्याचल में मां विंध्यवासिनी के दर्शन के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जो काम 70 सालों में नहीं हुआ, उसे नरेंद्र मोदी सरकार ने किया. शाह ने कहा कि एमएसपी दोगुनी करने का फैसला किसानों के लिए एक बड़ा तोहफा है. उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार किसानों की हितैषी है और पिछले छार साल में कृषि और किसानों के लिए बहुत कुछ किया है.

शाह ने केंद्रीय कैबिनेट के इस फैसले को आखिरी आदमी तक पहुंचाने के लिए कार्यकर्ताओं से अपील भी की. उन्होंने कहा कि सात दशक पुरानी मांग को पीएम मोदी ने पूरा किया है. आज़ादी के बाद से की जा रही इस मांग को पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री को बधाई. आज का दिन किसान दीपावली की तरह मनाएगा. इस फैसले से किसानों के हौसले बुलंद होंगे और गांव टूटने से बचेंगे. शाह ने कहा कि इस ऐतिहासिक फैसले को जन तक पहुंचाना है, ताकि इसका लाभ मिल सके.

खबर हटके | और पढ़ें


लखीमपुर खीरी, आपने पुलिस का असलहा गुम होते सुना होगा. वर्दी चोरी होते हुए सुनी होगी. गहने पैसे चोरी करते सुना होगा, पर पुलिस की पगार गुम होने की खबर...

आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क बनवा दी. गर्म चारकोल और कंक्रीट की वजह से कुत्ते की मौके पर ही जान चली गई. पुलिस ने कंस्ट्रक्शन...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 145198