बड़ी ख़बरें

सामने आया 'यूपी के 'शिक्षा विभाग' का ये 'बड़ा गड़बड़झाला' , STF ने किया खुलासा, मचा हडकंप पुलिस भर्ती परीक्षा: एम-सील का इस्तेमाल कर बायोमेट्रिक मशीन को देते थे चकमा BJP-PDP गठबंधन टूटने की खुशी में सांसद पुनिया की फिसली जुबान, तिरंगे को बताया भाजपा का झंडा मेरठ के भाजपा नेता के जन्मदिन समारोह में हर्ष फायरिंग प्रमोशन में आरक्षण: यूपी में सियासी भूचाल की आहट, राज्य कर्मचारी भी बंटे ऑपरेशन ऑल आउट : BJP-PDP गठबंधन टूटते ही बना ली गई 180 आतंकियों की 'हिट लिस्ट' मुंबई जा रही फ्लाइट में है बम, बचा सकते हो तो बचा लो! UNESCO के महानिदेशक ने की राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी की हत्या की निंदा पाकिस्तान : मतदान से पहले चुनाव आयोग ने दिया बड़े नेताओं को झटका, अब्बासी, इमरान खान के नामांकन पत्र खारिज तमिलनाडु की अनुकृति वास ने जीता मिस इंडिया का खिताब, मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर ने पहनाया ताज

मुम्बई: नाराज सहयोगी पार्टी शिवसेना को मनाने के प्रयास के तहत भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के उद्धव ठाकरे से मुलाकात करने के एक दिन बाद शिवसेना प्रमुख ने गुरुवार (7 जून) को कहा कि अभी जो कुछ भी हो रहा है, वह ‘सब ड्रामा’ है. मुम्बई के पास पालघर में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ठाकरे ने बुधवार (6 जून) की बैठक की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘अब जो कुछ भी हो रहा है वह सब ड्रामा है.’’ उल्लेखनीय है कि पालघर लोकसभा सीट के लिए हाल में हुए उपचुनाव में शिवसेना उम्मीदवार भाजपा उम्मीदवार से हार गया था.

ठाकरे ने दावा किया कि हार का सामना करने वाले शिवसेना उम्मीदवार श्रीनिवास वानगा ने भाजपा को ‘‘डरा’’ दिया. बुधवार (6 जून) को भाजपा सूत्रों ने शाह-ठाकरे बैठक को ‘‘सकारात्मक’’ बताया था और दावा किया था कि दोनों सहयोगी दलों के बीच तनाव कम हुआ है. लेकिन गुरुवार (7 जून) को शिवसेना नेता संजय राउत ने इन अटकलों को खारिज करने का प्रयास किया कि इस बातचीत से दोनों दलों के बीच अगले लोकसभा चुनाव में गठबंधन बनाने में मदद मिलेगी.

अमित शाह शिवसेना का फैसला नहीं बदल सकते : शिवसेना
वहीं दूसरी ओर अमित शाह और उद्धव ठाकरे के बीच 6 जून को हुई मुलाकात के बाद भी दोनों दलों के बीच गतिरोध दूर नहीं होने का संकेत देते हुए शिवसेना ने जोर दिया कि अगला लोकसभा चुनाव अकेले लड़ने का उसका फैसला भाजपा अध्यक्ष द्वारा नहीं बदला जा सकता.

शिवसेना नेता संजय राउत ने 7 जून को कहा, ‘‘पार्टी प्रमुख (शिवसेना) द्वारा लिया गया कोई फैसला किसी अन्य दल के अध्यक्ष द्वारा नहीं बदला जा सकता. सिर्फ शिवसेना या उद्धव ही पार्टी का फैसला कर सकते हैं.’’ उन्होंने जिक्र किया कि पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की जनवरी में हुयी बैठक में उद्धव ने घोषणा की थी कि पार्टी आगामी सभी चुनाव भाजपा के साथ गठबंधन किए बगैर लड़ेगी.

राउत ने "अटकलों" को खारिज करने का प्रयास करते हुए कहा कि भाजपा और शिवसेना के बीच की बातचीत से अगले लोकसभा चुनावों के लिए उनका गठबंधन हो जाएगा. राउत ने भाजपा को दोषी ठहराते हुए कहा, ‘‘बाहर चल रही अटकलें सही नहीं हैं.’’ 6 जून की रात शाह और ठाकरे के बीच दो घंटे चली बैठक के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘दो नेताओं ने बंद कमरे में मुलाकात की. तीसरा व्यक्ति नहीं जान सकता कि क्या चर्चा हुई.’’

खबर हटके | और पढ़ें


आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

जौनपुर, आपने खाने के शौक़ीन तो बहुत देखे होंगे, लेकिन हम आपको एक ऐसे अजीब इंसान के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी पसंद सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. जी हां, जौनपुर का एक शख्स पिछले पंद्रह सालों से प्रतिदिन मिट्टी के साथ चूना खाता चला आ रहा है....

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 137001