बड़ी ख़बरें

मथुरा में फर्जी शिक्षकों की नियुक्ति मामला: डीजीपी बोले- दूसरे जिलों तक भी जा सकती है जांच उन्नाव गैंगरेप केस: लखनऊ की CBI कोर्ट में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर की पेशी आज जीवन जीने की श्रेष्ठतम विधा है योग- स्वाती सिंह वगैर भेदभाव के हो रहा चौमुखी विकास - प्रो0 रीता बहुगुणा जोशी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम मोदी बोले- लोगों को जोड़ता है योग कपिल शर्मा का ये हाल देख लोग हो गए हैरान अंतरराष्ट्रीय योग दिवस: रामदेव ने 2 लाख लोगों के साथ योगाभ्यास कर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड ट्रंप ने वापस लिया परिवारों को अलग करने वाला आदेश #InternationalYogaDay2018: राज्यपाल राम नाईक संग सीएम योगी व राजनाथ ने किया योग योगी सिर्फ 'उद्घाटन का ही उद्घाटन करने वाले CM है, देश को अगला PM यूपी देगा : अखिलेश

मुंबई, खुद को कभी पत्रकार, वकील तो कभी भाजपा के विश्व हिंदू परिषद का सदस्य बता कर लोगों को बदनाम कर उन्हें ब्लैक मेल करने वाले स्वयंभू आरटीआई एक्टविस्ट संतोष मार्कण्डेय तिवारी के खिलाफ इंडिया अंबाउंड के  समूह संपादक नित्यानंद पांडेय ने नया नगर पुलिस स्टेशम में आईटी एक्ट 500, 502,  67 ( IT Act ) के तहत मामला दर्ज कराया है .

तथाकथित आरटीआई एक्टविस्ट संतोष मार्कण्डेय तिवारी पिछले कुछ दिनों से शोसल मीडिया पर नित्यानंद पांडेय व उनके परिवार के बारे झूठी और अनर्गल बाते लिख कर उन्हें बदनाम कर रहा था . ये कोई पहला मामला नही है जब संतोष मार्कण्डेय तिवारी ने सोशल मीडिया पर किसी की इस तरह से बदनामी कर उसे ब्लैक मेल किया इससे पहले भी उसने इस तरह के कई कारनामो को अंजाम दिया है जिससे सम्बंधित मुक़दमे अलग अलग पुलिस स्टेशनों में मामले दर्ज है.    

ताजा मामला भायंदर के नवघर पुलिस स्टेशन का है जहां मानसिक रोगी संतोष मार्कण्डेय तिवारी सहित 7 लोगो के खिलाफ समाजसेवक अरविंद उपाध्याय ने आई पी सी की धारा 354, 506, 504, 500, 501, 507 तथा आईटीएक्ट की धारा 66 के तहत मामला दर्ज कराया है दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में स्थित चितबड़ागांव में इस ठग की पत्नी मंजू तिवारी तथा बेटा नीतेश उर्फ राजू तिवारी पर अपराध क्र. 150ए/2016 धारा 323, 504, 506 (बी) आई.पी.सी. एवं 3 (1) एस.सी./एस.टी. एक्ट के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया गया है.

आपको बता दें कि इस फर्जी एक्टिविस्ट के खिलाफ ये कोई पहला मामला नहीं बलिक इससे पहले भी वर्ष 2008 काशी मीरा पुलिस ने काशी मीरा के बंपर बार से इसे जबरन उगाही करते हुए रंगे हाथों पकड़ा था. उस समय पुलिस ने इसके खिलाफ सी आर नं. 354/2008 के तहत जबरन उगाही का मामला दर्ज किया था। इसके अलावा काशी मीरा पुलिस स्टेशन में ही 2012 में एक और  मामला इस फर्जी एक्टिविस्ट के खिलाफ दर्ज हुआ था जिसमें संतोष तिवारी खुद को नेता बताकर पुलिस वालों पर रौब झाड़ने की कोशिश कर रहा था मगर जब पुलिस को उसकी सच्चाई मालूम पड़ी तो पुलिस ने संतोष तिवारी के खिलाफ सीआर नं. क 219/2012 आईपीसी 353, 323, 504, मोटर वेहिकल एक्ट 184 और 185 के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया था।

खबर हटके | और पढ़ें


आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

जौनपुर, आपने खाने के शौक़ीन तो बहुत देखे होंगे, लेकिन हम आपको एक ऐसे अजीब इंसान के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी पसंद सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. जी हां, जौनपुर का एक शख्स पिछले पंद्रह सालों से प्रतिदिन मिट्टी के साथ चूना खाता चला आ रहा है....

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 137497