बड़ी ख़बरें

अंतरिक्ष मिशन लेकर अर्थव्यवस्था तक, लाल किला से पीएम मोदी के भाषण की बड़ी 10 बातें स्वतंत्रता दिवस: 9 करोड़ पौधे लगाकर इतिहास रचने की तैयारी में उत्तर प्रदेश स्वतंत्रता दिवस पर योगी सरकार ने किया मुख्यमंत्री उत्कृष्ट सेवा पुलिस पदक का ऐलान आजादी का 72वां साल: क्यों शहीद घोषित नहीं हो सके भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु! पीएम मोदी ने लाल किले से दी खुशखबरी- 2022 तक अंतरिक्ष में होंगे भारतीय पूर्णिया देश की दूसरी ऐसी जगह, जहां आधी रात में फहराया जाता है तिरंगा यूपी के सबसे बड़े स्कूल CMS में रेप जैसी वरदात, छात्रों ने किया स्कूल के बाहर प्रदर्शन पंचतत्व में विलीन हुए महाकवि गोपालदास नीरज लखनऊ विश्वविद्यालय मामला : राज्यपाल से मिला सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल इस मामले में शाहरुख पर बिल्कुल भरोसा नहीं करतीं गौरी खान!

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी शनिवार से दो दिवसीय जम्मू-कश्मीर दौरे पर हैं. इस दौरान वे कारगिल जिले में बनने वाली एशिया की सबसे बड़ी जोजिला सुरंग का शिलान्यास करेंगे. 14.2 किलोमीटर लंबी सुरंग के बनने पर जोजिला से गुजरने पर लगने वाला समय 3.5 घंटों से घटकर सिर्फ 15 मिनट हो जाएगा. इतना ही नहीं सुरंग बन जाने से श्रीनगर-कारगिल-लेह के बीच 12 महीने सड़क संपर्क बनाए रखने में मदद मिलेगी. ऐसे में ये सुरंग रणनीतिक रूप से भी काफी अहम हो जाती है. सर्दियों के मौसम में भारी बर्फबारी के कारण कारगिल पोस्ट तक सप्लाई पहुंचाना मुश्किल हो जाता है, सुरंग बनने पर ये समस्या दूर हो जाएगी.

जानें, जोजिला सुरंग के बारे में खास बातें
- जोजिला सुरंग को बनाने के लिए भारतीय सेना ने सबसे पहले साल 1997 में सर्वे किया था. 1999 के करगिल युद्ध के बाद इसकी योजना को अमलीजामा पहनाने की तैयारी शुरू की गई.
- जोजिला सुरंग एशिया की सबसे लंबी टू-वे टनल होगी.
- सुरंग मौजूदा हाईवे से लगभग 400 मीटर नीचे बनाई जाएगी.
- 14.2 किमी लंबी इस सुरंग की लागत करीब 6,809 करोड़ रुपए होगी.

- टनल को साल 2026 तक तैयार करने की योजना है.
- सुरंग बनने के बाद जोजिला से गुजरने में लगने वाला वक्त 3.5 घंटे से घटकर सिर्फ 15 मिनट हो जाएगा.
- ये सुरंग वेंटिलेशन, विद्युत आपूर्ति, इमरजेंसी लाइटिंग, सीसीटीवी, ट्रैफिक लॉगिंग इक्विपमेंट, टनल रेडियो सिस्टम जैसे कई लेटेस्ट और हाईटेक फीचर्स से लैस होगी.
- इस सुरंग में पैदल राहगीरों के लिए भी खास व्यवस्था की जाएगी. उनके लिए 250 मीटर में रोड क्रॉस करने की व्यवस्था होगी.- सुरंग को सुरक्षित बनाने के लिए हर 125 मीटर पर एक इमरजेंसी टेलीफोन और फायर फाइटिंग केबिन भी होगा.
- इस सुरंग का निर्माण कार्य जिस इलाके में किया जाएगा वह समुद्र तल से 11,578 फीट की ऊंचाई पर स्थित है.

माना जा रहा है कि, जोजिला सुरंग के निर्माण कार्य के दौरान व इसके बन जाने के बाद लद्दाख क्षेत्र में रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे. साथ ही पर्यटन भी बढ़ेगा. फिलहाल यहां ज्यादातर पर्यटक प्लेन के जरिए ही पहुंचते हैं. सर्दियों में इसका आंकड़ा भी काफी कम हो जाता है. ऐसे में ये सुरंग इस समस्या को भी दूर कर देगी.

खबर हटके | और पढ़ें


लखीमपुर खीरी, आपने पुलिस का असलहा गुम होते सुना होगा. वर्दी चोरी होते हुए सुनी होगी. गहने पैसे चोरी करते सुना होगा, पर पुलिस की पगार गुम होने की खबर...

आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क बनवा दी. गर्म चारकोल और कंक्रीट की वजह से कुत्ते की मौके पर ही जान चली गई. पुलिस ने कंस्ट्रक्शन...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 151042