बड़ी ख़बरें

लखनऊ विश्वविद्यालय मामला : राज्यपाल से मिला सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल इस मामले में शाहरुख पर बिल्कुल भरोसा नहीं करतीं गौरी खान! तीसरे टी20 में रोहित शर्मा नहीं, 18 गेंदों ने किया इंग्लैंड का 'काम-तमाम'! थाईलैंडः बौद्ध भिक्षु रह चुका है गुफा में फंसा कोच, बच्चों को इतने दिन यूं रखा जिंदा ब्रिटेन में घर मेरे नाम पर नहीं, कोई इन्‍हें छू भी नहीं सकता: विजय माल्‍या कुख्यात डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या, योगी ने दिए न्यायिक जांच के आदेश बुरहान की दूसरी बरसी पर हिज्बुल में शामिल हुआ IPS ऑफिसर का भाई, मेडिकल की कर रहा था पढ़ाई नाम में क्‍या रखा है? इन आशा वर्कर्स से पूछिए जो इसी नाम का कंडोम बांटती हैं तो ऐसे प्रेम प्रकाश सिंह बन गया माफिया डॉन 'मुन्ना बजरंगी', ये अब तक की 'पूरी कहानी' द. कोरियाई राष्ट्रपति के साथ आज नोएडा आ रहे पीएम मोदी, देंगे सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री की सौगात

बागपत, कश्मीर घाटी में पत्थरबाज़ी की घटनाओं से पश्चिमी उत्तर प्रदेश का कथित कनेक्शन सामने आने के बाद हड़कंप मच गया था. एक निजी न्यूज चैनल से बातचीत में जम्मू-कश्मीर से वापस आए बागपत के रहने वाले नसीम ने चौंका देने वाला खुलासा किया है.

नसीम ने बताया कि उसने कश्मीर में काम करने वाले डिवाइन इंडस्ट्रीज के मालिक एजाज़ वानी को बदनाम करने के लिए झूठी साजिश रची. नसीम बताते हैं कि जब ईद के दौरान घर आने पर रुपये नहीं देने पर उसने और उसके दोस्तों ने झूठा बयान मीडिया को दिया कि कश्मीर में हमलोगों को सेना पर पत्थर मारने के लिए कहा जाता था.

बता दें कि सहारनपुर जनपद के नानौता निवासी मोहम्मद अजीम राव, नकुड़ निवासी बबलू और पंकज, बागपत के युवकों के साथ कश्मीर के पुलवामा में लस्तीपुरा में डिवाइन इंडस्ट्रियल फार्म में सिलाई के काम के लिए गए थें.

बागपत जिले की बड़ौत तहसील के गुराना रोड निवासी पीड़ित टेलर मास्टर नसीम ने कश्मीर में नौकरी करने के दौरान पूरी कहानी बया करते हुए कहा कि सहारनपुर के रहने वाले बब्लू कुछ युवकों के साथ जनवरी 2018 में कश्मीर में सिलाई का काम करने वाली कंपनी डिवाइन इंडस्ट्रीज में नौकरी के लिए गया था. नसीम के मुताबिक हम सब ठीक- ठाक काम कर रहे थे.

जब ईद के दौरान काम का हिसाब मांगने पर कंपनी ने ईद बाद हिसाब करने की बात कही. लेकिन हमे घर आना था. इसी बात को लेकर हमारा और कंपनी के मालिक एजाज वानी से विवाद हो गया. विरोध करने पर कंपनी के मालिक की तरफ से धमकी दी जाने लगी कि चोरी के आरोप में फंसा दिया जाएगा.

नसीम ने बताया कि हमने अपने घर से रुपये मंगवाये और साथियों के साथ नसीम ने हवाई टिकट कराए. इसके बाद वह अपने सभी साथियों और परिवार को लेकर एयरपोर्ट पर पहुंचा. वहां से दिल्ली और फिर बागपत में अपने घर पहुंचकर राहत की सांस ली.

नसीम बताते हैं कि गांव पहुंचने के कुछ दिन बाद कश्मीर से कंपनी के मालिक ने धमकी भरा फोन करते हुए कहा कि तुम लोगों ने ईद में हमारा धंधा खराब किया है. हम तुम लोगों के खिलाफ पुलिस में 15- 20 लाख रुपये की चोरी का केस दर्ज करवाकर वापस यहां बुलवा लेंगे. इसी घटना के बाद हम लोगों ने मिलकर कंपनी मालिक के ऊपर पत्थरबाजी का दबाव बनाने का आरोप लगाया था. नसीम ने दावा किया कि हमने और हमारे दोस्तों ने झूठ बोला था.

फिलहाल पुलिस को नसीम की बातों पर पूरा भरोसा नहीं है. एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार ने कहा कि जांच के बाद ही स्थिति साफ हो पाएगी. फिलहाल पुलिस इन सभी युवकों से पूछताछ कर रही है और जांच कर रही है. हालांकि नसीम के बयानों में विरोधाभास दिख रहा है. पहले के बयानों से अलग हटकर वो कह रहा है कि उन पर कश्मीर में चोरी का आरोप लगाने की बात कही गई थी, इसी वजह से ऐसा बोल दिया. बहरहाल बागपत पुलिस इन युवकों के दावों की सच्चाई पता लगाने की कोशिश कर रही है.

पुलिस इस एंगल पर भी जांच कर रही है कि कहीं पैसे के लेन-देन पर विवाद के चक्कर में ही युवकों ने ऐसे बयान तो नहीं दिए. असल बात पुलिस की जांच के बाद ही सामने आएगी कि इन लोगों से पत्थरबाजी के लिए कहा जाता था या फिर पैसे के लेन-देन के चक्कर में ये ऐसे आरोप लगा रहे हैं. बहरहाल, कश्मीर में पत्थरबाजी से पश्चिमी यूपी के कथित कनेक्शन से सुरक्षा एजेंसियां चौकन्नी हो गई हैं.

खबर हटके | और पढ़ें


लखीमपुर खीरी, आपने पुलिस का असलहा गुम होते सुना होगा. वर्दी चोरी होते हुए सुनी होगी. गहने पैसे चोरी करते सुना होगा, पर पुलिस की पगार गुम होने की खबर...

आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क बनवा दी. गर्म चारकोल और कंक्रीट की वजह से कुत्ते की मौके पर ही जान चली गई. पुलिस ने कंस्ट्रक्शन...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 144307