बड़ी ख़बरें

योगी सरकार के मंत्री ने सड़क बनाने के लिए खुद ही उठा लिया 'फावड़ा' पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त बिसारिया को गुरुद्वारे जाने से रोका गया इस बैंक को बेच रही है सरकार, जानिए कौन है खरीदार हापुड़ लिंचिंग का दूसरा वीडियो, बीच सड़क घायल की पिटाई और दाढ़ी नोचते दिखे लोग एटा : फूड प्‍वाइजनिंग से 2 की मौत, 28 से ज्‍यादा अस्‍पताल में भर्ती कांस्टेबल बोला- हमने नहीं दी परिवार बढ़ाने के लिए चिट्ठी, SP ने दिए जांच के निर्देश PCS-2015 के चयनित अफसरों को सीबीआई ने किया दिल्ली तलब मिशन 2019 में जुटा RSS, बीजेपी की जीत के लिए बनाई ये रणनीति US को अब भी है नॉर्थ कोरिया से खतरा! ट्रंप ने एक साल के लिए बढ़ायी इमरजेंसी ईद पर लोगों से गले मिलने वाली अलीशा ने मांगी माफी, कहा- घर से बाहर निकलना हुआ दूभर

बंद हो चुके 500 और 1000 के नोट खरीद रही ISI, जानिए क्‍या है इस 'साजिश' के पीछे वजह

नई दिल्ली,  500 और 1000 रुपए के बंद हो चुके नोटों की लगातार होने वाली बरामदी की गुत्थी जांच एजेंसियों ने सुलझा ली है. जांच एजेंसियों की एक रिपोर्ट के मुताबिक जाली नोटों के कारोबार में लगे सिंडिकेट इन नोटों को गुपचुप तरीके से नेपाल पहुंचा रहे हैं. पाकिस्तान में मौजूद आईएसआई और डी कंपनी से जुड़े एजेंट पाक स्मगलर्स की मदद से इन नोटों को खरीद कर इसे कराची और पेशावर के प्रिंटिंग प्रेस में भेज रहे हैं.

 कराची और पेशावर के प्रिंटिंग प्रेस में पाकिस्तानी नोटों की भी छपाई होती है. यहां मौजूद एक्सपर्ट भारतीय नोटों पर लगे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी आरबीआई के सिक्योरिटी वायर को निकाल कर के नये 500, 2000 और 50 के जाली नोटों पर लगा देतें है, जिससे असली और नकली नोटों को पहचान पाना बेहद मुश्किल होता है. कराची और पेशावर से इन नये भारतीय जाली नोटों को एक बार फिर से डी कंपनी की मदद से दुबई और बंग्लादेश जैसे देशों में भेजा जाता है. स्मगलर्स की मदद से इन नोटों को भारत में पहुंचाया जाता है.

जांच एजेंसियों के मुताबिक में अलग-अलग राज्यों से लाखों रुपए के जाली नोट बरामद किये जा चुके हैं. इन जाली नोटों के कारोबार में लगे तस्करों से पूछताछ की गई तो पता चला कि वह पुराने भारतीय पुराने नोट को नेपाल भेजते हैं. जहां पर पाकिस्तानी स्मगलर उन्हें इसके बदले पैसे देते हैं.

गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक अब जांच एजेंसियां ये पता करने में लगी हुई है कि जब से सरकार ने नोटबंदी का फैसला किया है तब से अब तक कितनी मात्रा में पुराने नोटों को नेपाल या दूसरे देशों में भेजा गया है. एनआईए फेक इंडियन करेंसी नोट यानि (FICN) की जांच कर रही है. सूत्रों मुताबिक जिन जाली नोटों को बरामद किया गया है उनकी क्वालिटी में काफी बदलाव आ रहा है और असली नकली का फर्क करना आम आदमी के लिए आसान नहीं है.

खबर हटके | और पढ़ें


आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

जौनपुर, आपने खाने के शौक़ीन तो बहुत देखे होंगे, लेकिन हम आपको एक ऐसे अजीब इंसान के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी पसंद सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. जी हां, जौनपुर का एक शख्स पिछले पंद्रह सालों से प्रतिदिन मिट्टी के साथ चूना खाता चला आ रहा है....

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 139278