बड़ी ख़बरें

राज्यसभा उप-सभापति पद के लिए कांग्रेस नेता ने की ममता बनर्जी से मुलाकात मायावती विपक्षी एकजुटता से अलग क्‍या अकेले चुनाव लड़ने का मन बना रही हैं? तालिबान ने संघर्षविराम आगे बढ़ाने से इंकार किया, आत्मघाती हमले में 18 की मौत तबाही मचाने के लिए सऊदी अरब ने दागी मिसाइल, दुश्मन देश ने रास्ते में किया नेस्तनाबूद फिल्म 'रेस 3' पर बना एक और VIDEO, हंस-हंसकर हो जाएंगे लोटपोट हनी सिंह के गाने पर इस छोटी सी बच्ची का डांस हो रहा वायरल, क्या आपने देखा VIDEO? 'विरुष्का' पर भड़कीं अरहान सिंह की मां, कहा- पब्लिसिटी के लिए किया स्टंट श्रीलंकाई कप्तान चांडीमल पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप, ICC ने पाया दोषी आज से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर ट्रांसपोर्टर्स, देशभर के कारोबार पर पड़ सकता है असर फिर बढ़ेंगी विजय माल्या की मुश्किलें, एक और चार्जशीट दायर करने की तैयारी में ED

यूक्रेन में 'मौत' के 24 घंटे बाद जिंदा हो गया रूसी पत्रकार, जानें असली कहानी?

यूक्रेन से मंगलवार को खबर आई कि वहां एक रूसी पत्रकार को अपने अपार्टमेंट की सीढ़ियों पर चढ़ते वक्त गोली मार दी गई. थोड़ी देर बाद उसकी मौत पर मुहर भी लग गई. दावा किया गया कि बाबचेंको की पत्नी ने गोली चलने की आवाज़ सुनी और जब वो बाहर आईं तो अपने पति को ख़ून में लथपथ पाया और अस्पताल ले जाने के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया.

इस घटना ने दुनियाभर में सुर्खियां बटोरी, लेकिन इस मौत का असली क्लाइमेक्स अभी बाक़ी था. 24 घंटे बाद वह पत्रकार अचानक मीडिया के सामने आ गया और इस पूरे घटनाक्रम के पीछे की प्लानिंग को उजागर किया.

क्यों फैलाई गई झूठी खबर?
पत्रकार अरकाडी बाबचेंको 2017 में रूस से भाग कर यूक्रने आ गए थे. वो रूसी सरकार के खिलाफ खबरें लिखते रहते थे. वो राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के आलोचक रहे हैं और उन्होंने एक साल पहले अपनी जान पर ख़तरा बताते हुए रूस छोड़ दिया था. बाबचेंको का कहना है कि रूस ने उनको मारने का प्लान बनाया. कहा गया कि रूस ने एक यूक्रेन के ही नागरिक को पत्रकार अरकाडी बाबचेंको को मारने के लिए चालीस हज़ार डॉलर दिए थे. इस बात की भनक यूक्रेन की सुरक्षा एजेंसियों को लग गई. लिहाजा उन्हें बचाने के लिए एक प्लान तैयार किया गया. यूक्रेन सेक्युरिटी सर्विस के प्रमुख वासिल गरित्साक ने बुधवार को बताया कि एक स्पेशल ऑपरेशन के तहत इस पत्रकार के मौत की झूठी खबर फैलाई गई.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में पहुंचे पत्रकार
बुधवार को पत्रकार अरकाडी बाबचेंको अचानक ही प्रेस कॉन्फ्रेस में पहुंच कर हर किसी को हैरान कर दिया. उन्होंने कहा कि इस ऑपरेशन के बारे में उन्हें पता था. अरकाडी बाबचेंको ने कहा कि यूक्रेन की सुरक्षा एजेंसियों से उनकी बात हुई थी और एक महीना पहले उन्हें इस झूठी मर्डर के बारे में बताया गया था जिससे की उसकी जान बचाई जा सके. अरकाडी बाबचेंको ने अपनी मौत की खबर को लेकर अपनी पत्नी और दोस्तों से माफी मांगी.

क्या कहा रूस ने
रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जैकरेवा ने इस पूरे घटनाक्रम को प्रोपेगैंडा फैलाने वाला नाटक बताया है. उन्होंने कहा कि उन्हें बाबचेंको के ज़िंदा होने की ख़ुशी है. वहीं यूक्रेन के राष्ट्रपति पेत्रो पोरोशेंको ने कहा है कि वो बाबचेंको और उनके परिवार को सुरक्षा देने के लिए तैयार हैं.

खबर हटके | और पढ़ें


आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

जौनपुर, आपने खाने के शौक़ीन तो बहुत देखे होंगे, लेकिन हम आपको एक ऐसे अजीब इंसान के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी पसंद सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. जी हां, जौनपुर का एक शख्स पिछले पंद्रह सालों से प्रतिदिन मिट्टी के साथ चूना खाता चला आ रहा है....

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 135696