बड़ी ख़बरें

तत्काल और कैंसिल टिकट के लिए रेलवे की नई शुरुआत, अब नहीं होगा आपको नुकसान भारत दुनिया का छठा सबसे अमीर देश, कुल संपत्ति 8,230 अरब डॉलर : रिपोर्ट राहुल गांधी के ‘प्लान बी’ ने पलट दी कर्नाटक की सियासी बाजी डीके शिवकुमार : वो कांग्रेस नेता, जिसकी वजह से कर्नाटक के CM बनेंगे कुमारस्वामी येदियुरप्पा के साथ ऐसा क्यों होता है? कर्नाटक जैसे 'सियासी संकट' में टूटने से कैसे बचाए जाते हैं विधायक? 55 घंटे में ही गिर गयी कर्नाटक में बीजेपी की सरकार, येदियुरप्पा ने दिया मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा कर्नाटक में आज बीजेपी की अग्निपरीक्षा, जानिए कैसे होगा फ्लोर टेस्ट इलाहाबाद: अखाड़ा परिषद नहीं करेगा कुंभ में शाही स्नान का बहिष्कार काशी में अब श्रद्धालु 'क्रूज' पर बैठकर देख सकेंगे विश्व-प्रसिद्ध गंगा आरती

डिजिटल प्लेटफॉर्म पर डेब्यू करेंगे डिजाइनर मनीष मल्होत्रा, इस वेब सीरीज में आएंगे नजर

नई दिल्ली: अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा दिग्गज डिजाइनरों मनीष मल्होत्रा और अनीता डोंगरे के साथ जल्द ही लॉन्च होने जा रही वेब सीरीज 'इंटर्न डायरीज' में नजर आएंगी. एक बयान के मुताबिक, वेब सीरीज में दर्शकों को दो इंटर्न्‍स के नजरिए से फैशन पत्रिका के कामकाज के बारे देखने को मिलेगा. इस वेब सीरीज में दोनों डिजाइनर खास अपीयरेंस देंगे. अभिनय में आने से पहले कॉस्ट्यूम डिजाइनर रह चुकी सोनाक्षी ने पहले के दौर के इंटर्न्‍स (प्रशिक्षु) और आज के इंटर्न्‍स के बीच के अंतर के बारे में बात की. 

उन्होंने कहा, "आज के इंटर्न बहुत प्रतिभावान और योग्य हैं. उन्हें हर चीज के बारे में पता होता है, अपने मेकअप और बाल के प्रति फोकस होते हैं. हम तो ऑफिस जब जाते थे तो ऐसा लगता था कि हम बस नींद से जागकर सीधे ऑफिस पहुंच गए. यह सब बहुत जल्दबाजी में होता था, लेकिन यह मजेदार भी होता था." उन्होंने कहा कि हालांकि, अब वह फैशन उद्योग का सीधे तौर पर हिस्सा नहीं हैं, लेकिन उन्होंने जो भी सीखा वह उन्हें अभी भी याद है और वह अभी भी इसका उपयोग करती हैं. 

आठ एपिसोड वाली वेब सीरीज 15 मई को लॉन्च होगी. 

खबर हटके | और पढ़ें


लखनऊ, उन्नाव रेप केस में सीबीआई को जांच करते करीब एक महीने से भी ज्यादा हो चुके हैं. सूत्रों के अनुसार सीबीआई के पास इस बात के 'ठोस सबूत' हैं,...

हम हर दिन होने वाली घटनाओं को अपने दिमाग की तह में बिठा लेते हैं, समय बितने के साथ कभी-कभी हम उनको याद भी करते हैं. लेकिन हमारे याददाश्त की भी एक सीमा है.

वक्त के साथ-साथ हम बहुत सी बातें भूल भी जाते हैं. इसे मेमोरी लॉस कहते हैं और...

अगर आप से कहा जाए कि आप आंखों पर पट्टी बांधकर किताब पढ़ें तो आप सोच में पड़ जाएंगे कि ऐसा कैसे मुमकिन है. बेशक ये दूसरों के लिए नामुमकिन सी चीज़ है पर अब्दुल बिलाल खान के लिए बाएं हाथ का खेल है. बिलाल आंखों पर पट्टी बांधकर ना...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 128867