बड़ी ख़बरें

पंचतत्व में विलीन हुए महाकवि गोपालदास नीरज लखनऊ विश्वविद्यालय मामला : राज्यपाल से मिला सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल इस मामले में शाहरुख पर बिल्कुल भरोसा नहीं करतीं गौरी खान! तीसरे टी20 में रोहित शर्मा नहीं, 18 गेंदों ने किया इंग्लैंड का 'काम-तमाम'! थाईलैंडः बौद्ध भिक्षु रह चुका है गुफा में फंसा कोच, बच्चों को इतने दिन यूं रखा जिंदा ब्रिटेन में घर मेरे नाम पर नहीं, कोई इन्‍हें छू भी नहीं सकता: विजय माल्‍या कुख्यात डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या, योगी ने दिए न्यायिक जांच के आदेश बुरहान की दूसरी बरसी पर हिज्बुल में शामिल हुआ IPS ऑफिसर का भाई, मेडिकल की कर रहा था पढ़ाई नाम में क्‍या रखा है? इन आशा वर्कर्स से पूछिए जो इसी नाम का कंडोम बांटती हैं तो ऐसे प्रेम प्रकाश सिंह बन गया माफिया डॉन 'मुन्ना बजरंगी', ये अब तक की 'पूरी कहानी'

पुलिस ने पूरी की जांच, तन्वी और अनस का पासपोर्ट हो सकता है रद्द!

लखनऊ, लखनऊ के पासपोर्ट ऑफिस में एक अधिकारी पर बदसुलूकी का आरोप लगाकर सुर्खियों में आए हिन्दू-मुस्लिम कपल अनस और तन्वी सेठ का पासपोर्ट रद्द किया जा सकता है. इस बहुचर्चित पासपोर्ट मामले की जांच पूरी हो चुकी है और पुलिस के मुताबिक, उन्हें तन्वी के लखनऊ में रहने से जुड़ा कोई दस्तावेज़ नहीं मिला है.

इस मामले में पुलिस और स्थानीय अभिसूचना इकाई (एलआईयू) ने अपनी एडवर्स रिपोर्ट लगा दी है. अब माना जा रहा है कि पुलिस रिपोर्ट के आधार पर तन्वी और उसके पति अनस सिद्दीकी को पासपोर्ट ऑफिस नोटिस भेजकर स्पष्टीकरण मांगेगा. अगर अनस और तन्वी ने संतोषजनक जवाब नहीं दिया, तो उनका पासपोर्ट रद्द हो जाएगा.

बता दें पासपोर्ट आवेदन के तय नियमों के मुताबिक, आवेदक का अर्जी में बताए पते पर एक साल से ज्यादा वक्त तक निवास होना जरूरी है, लेकिन पुलिस को जांच में ऐसे कोई साक्ष्य नहीं मिले. मामले में लखनऊ के एसएसपी दीपक कुमार ने कहा कि लखनऊ के एड्रेस पर पिछले एक साल से तन्वी नहीं रहती हैं. एड्रेस वेरिफिकेशन रिपोर्ट पासपोर्ट ऑफिस को भेज दी गई है. आगे की कार्रवाई पासपोर्ट ऑफिस करेगा.

उधर पासपोर्ट कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, झूठी जानकारी देने के मामले में विभाग अनस और तन्वी पर 5000 रुपये जुर्माना भी लगा सकता है. साथ ही विभाग को धोखाधड़ी व गुमराह करने के लिए तन्वी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई के तहत एफआईआर भी दर्ज करवा सकता है.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, इस मामले में अब तक हुई जांच और तन्वी के ससुराल वालों से बातचीत में ऐसा कोई सबूत नहीं मिला, जिससे यह साबित हो सके कि तन्वी सेठ एप्लिकेशन में बताई जगह पर एक साल से ज्यादा वक्त से रह रही हैं.

पासपोर्ट अधिनियम के मुताबिक, आवेदक जो पता लिख रहा है, उस पर उसे एक साल से अधिक समय तक रहना जरूरी है. तन्वी ने अपने एप्लिकेशन में कैसरबाग स्थित ससुराल का पता दिया है, लेकिन वह एक साल से वहां नहीं रह रही हैं. इस आधार पर उनका पासपोर्ट रद्द हो सकता है.

गौरतलब है कि पासपोर्ट अधिकारी विकास मिश्रा पर आवेदक तन्वी सेठ ने बदसलूकी का आरोप लगाया था. तन्वी सेठ के मुताबिक, जब वह अपना आवेदन लेकर विकास मिश्रा के पास गईं तो उन्होंने मुस्लिम से शादी करने को लेकर निजी कमेंट किए. तन्वी सेठ का आरोप है कि जब उन्होंने इसका विरोध किया तो विकास मिश्रा ने उनके साथ बदसलूकी भी की. तन्वी सेठ ने इस पूरे मामले की शिकायत ट्विटर के जरिये विदेश मंत्रालय से की थी. घटना की जानकारी मिलते ही विदेश मंत्रालय ने तुरंत कार्रवाई कर लखनऊ कार्यालय से रिपोर्ट मांगी थी, जिसके बाद विकास मिश्रा का तबादला गोरखपुर करने के साथ आनन-फानन में तन्वी सेठ और अनस सिद्दीकी का पासपोर्ट जारी कर दिया गया था.

इधर, विकास मिश्रा ने गुरुवार को ही मीडिया के सामने तन्वी सेठ द्वारा लगाए गए आरोपों का खंडन किया था. उन्होंने कहा था कि तन्वी सेठ गलत तरीके से अपने पति का नाम पासपोर्ट में शामिल कराना चाहती थीं, जिस निकाहनामे को आधार बनाकर वह यह दावा कर रहीं थीं, उसमें उनका नाम 'सादिया अनस' लिखा हुआ था. इसकी जानकारी उन्होंने आवेदन में नहीं दी थी. इसे लेकर ही उन्होंने आपत्ति जाहिर की थी.

खबर हटके | और पढ़ें


लखीमपुर खीरी, आपने पुलिस का असलहा गुम होते सुना होगा. वर्दी चोरी होते हुए सुनी होगी. गहने पैसे चोरी करते सुना होगा, पर पुलिस की पगार गुम होने की खबर...

आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क बनवा दी. गर्म चारकोल और कंक्रीट की वजह से कुत्ते की मौके पर ही जान चली गई. पुलिस ने कंस्ट्रक्शन...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 145250