बड़ी ख़बरें

पंचतत्व में विलीन हुए महाकवि गोपालदास नीरज लखनऊ विश्वविद्यालय मामला : राज्यपाल से मिला सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल इस मामले में शाहरुख पर बिल्कुल भरोसा नहीं करतीं गौरी खान! तीसरे टी20 में रोहित शर्मा नहीं, 18 गेंदों ने किया इंग्लैंड का 'काम-तमाम'! थाईलैंडः बौद्ध भिक्षु रह चुका है गुफा में फंसा कोच, बच्चों को इतने दिन यूं रखा जिंदा ब्रिटेन में घर मेरे नाम पर नहीं, कोई इन्‍हें छू भी नहीं सकता: विजय माल्‍या कुख्यात डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या, योगी ने दिए न्यायिक जांच के आदेश बुरहान की दूसरी बरसी पर हिज्बुल में शामिल हुआ IPS ऑफिसर का भाई, मेडिकल की कर रहा था पढ़ाई नाम में क्‍या रखा है? इन आशा वर्कर्स से पूछिए जो इसी नाम का कंडोम बांटती हैं तो ऐसे प्रेम प्रकाश सिंह बन गया माफिया डॉन 'मुन्ना बजरंगी', ये अब तक की 'पूरी कहानी'

योग से 20 दिन में टूटा कूल्हा जोड़कर शतायु होने के करीब पहुंचे योगाचार्य

इलाहाबाद, यमुना किनारे इलाहाबाद के नैनी स्थित संगम रोड पर नर्मदा योग एवं प्रशिक्षण संस्थान चलाने वाले योगाचार्य नर्मदा प्रसाद मिश्र ने दावा किया कि उन्होंने योग से अपना टूटा कूल्हा 20 दिन में जोड़ लिया. योगाचार्य ने बताया कि, छह वर्ष पूर्व एक दुर्घटना में मेरा कूल्हा टूट गया था. डॉक्टरों ने कहा कि इसे ठीक होने में महीनों लग जाएंगे. मुझे अपने योग पर पूर्ण विश्वास था. मैं घर लौट आया और योग करके 20 दिन में अपना टूटा कूल्हा जोड़ लिया.

मिश्र ने बताया कि ईश्वर ने गर्भ से लेकर मरने तक योग की व्यवस्था कर रखी है, लेकिन मनुष्य गर्भासन और शवासन को छोड़कर बाकी के आसन भूलता चला गया. 97 वर्षीय योगाचार्य नर्मदा प्रसाद मिश्र ने कहा कि गुरुवार का विश्व योग दिवस वर्तमान समय में योग के महत्व की पुनः याद दिलाता है.

केवल तीन आसन कर निरोग रह सकता है आदमी
यमुना पर नैनी स्थित संगम रोड पर नर्मदा योग एवं प्रशिक्षण संस्थान चलाने वाले नर्मदा प्रसाद मिश्र ने बताया कि, हमारे शरीर में वात, पित्त और कफ को मात्र तीन आसनों- सर्वांगासन, भुजंगासन और पश्चिमोत्तासन के जरिए संतुलित रखा जा सकता है. इसे त्रिकुटासन कहते हैं और यदि ये त्रिदोष (वात, पित्त कफ) संतुलित अवस्था में रहें तो हमें कोई बीमारी होगी ही नहीं.

योग से छठी इंद्रीय जागृत कर अमरत्व के करीब पहुंच सकता है व्यक्ति
योगाचार्य नर्मदा प्रसाद मिश्र ने कहा, सही मायने में एक योगी अपनी इच्छा से मृत्यु को प्राप्त होता है. मेरी इच्छा है कि मैं अपने पोते-पोतियों का विवाह कर दूं. इसके बाद ही प्राण त्यागूंगा. उन्होंने बताया कि योग में ऐसी ऐसी मुद्राएं हैं जिनके बल पर अपनी छठी इंद्रीय को जागृत किया जा सकता है. हालांकि इसके लिए सतत अभ्यास की जरूरत पड़ती है. खेचरी मुद्रा, वज्रोली मुद्रा जैसी मुद्राएं व्यक्ति को अमरत्व के करीब ले जाती हैं.

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी रहे नर्मदा प्रसाद मिश्र ने करीब 50 वर्ष कोलकाता में बिताए और नेताजी सुभाष चंद्र बोस का सान्निध्य प्राप्त किया. मिश्र ने योग विद्या अपने बाबा ब्रह्मचारी जी महाराज से ग्रहण की थी और आज उनकी छठी पीढ़ी योग कर रही है.

योग निद्रासन में 15 मिनट में ली जा सकती है 8 घंटे की नींद
सबसे कठिन आसनों- योग बद्र आसन, विस्तृत शरीर वक्षभू स्पर्श आसन, गर्भ आसन, योग निद्रासन, गरुड़ासन आदि में निपुण योगाचार्य का कहना है कि योग निद्रासन में व्यक्ति 15 मिनट में 8 घंटे तक की नींद ले सकता है.

खबर हटके | और पढ़ें


लखीमपुर खीरी, आपने पुलिस का असलहा गुम होते सुना होगा. वर्दी चोरी होते हुए सुनी होगी. गहने पैसे चोरी करते सुना होगा, पर पुलिस की पगार गुम होने की खबर...

आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क बनवा दी. गर्म चारकोल और कंक्रीट की वजह से कुत्ते की मौके पर ही जान चली गई. पुलिस ने कंस्ट्रक्शन...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 145222