बड़ी ख़बरें

पंचतत्व में विलीन हुए महाकवि गोपालदास नीरज लखनऊ विश्वविद्यालय मामला : राज्यपाल से मिला सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल इस मामले में शाहरुख पर बिल्कुल भरोसा नहीं करतीं गौरी खान! तीसरे टी20 में रोहित शर्मा नहीं, 18 गेंदों ने किया इंग्लैंड का 'काम-तमाम'! थाईलैंडः बौद्ध भिक्षु रह चुका है गुफा में फंसा कोच, बच्चों को इतने दिन यूं रखा जिंदा ब्रिटेन में घर मेरे नाम पर नहीं, कोई इन्‍हें छू भी नहीं सकता: विजय माल्‍या कुख्यात डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या, योगी ने दिए न्यायिक जांच के आदेश बुरहान की दूसरी बरसी पर हिज्बुल में शामिल हुआ IPS ऑफिसर का भाई, मेडिकल की कर रहा था पढ़ाई नाम में क्‍या रखा है? इन आशा वर्कर्स से पूछिए जो इसी नाम का कंडोम बांटती हैं तो ऐसे प्रेम प्रकाश सिंह बन गया माफिया डॉन 'मुन्ना बजरंगी', ये अब तक की 'पूरी कहानी'

मगहर में बोले मोदी- आपातकाल लगाने वाले और विरोधी आज कुर्सी के लालच में साथ आ गए

मगहर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को संत कबीर दास की निर्वाण स्थली मगहर पहुंचे. संत कबीर के प्राकट्य उत्सव पर पीएम मोदी ने संत कबीर नगर जिले के मगहर में कबीर की समाधि के दर्शन किया और फिर मज़ार पर जाकर चादर चढ़ाई. इसके अलावा प्रधानमंत्री ने यहां 24 करोड़ की लागत से बनने वाली कबीर एकेडमी की आधारशिला रखी.

 

पीएम मोदी ने यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए संत कबीर को नमन किया और विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी की इस रैली को लोकसभा चुनाव के अभियान की शुरुआत के रूप में देखा जा रहा है.

 

 

पीएम मोदी ने कहा, '14-15 वर्ष पहले जब पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम जी यहां आए थे, तब उन्होंने इस जगह के लिए एक सपना देखा था. उनके सपने को साकार करने के लिए, मगहर को अंतरराष्ट्रीय मानचित्र में सद्भाव-समरसता के मुख्य केंद्र के तौर पर विकसित करने का काम अब किया जा रहा है.'

 

पीएम मोदी ने कहा, 'गरीबों के लिए जब प्रधानमंत्री आवास योजना शुरू हुई तो यहां की पुरानी सरकार का रवैया बहुत ही खराब था. उस वक्त हमारे द्वारा कई चिट्ठियां लिखी गई. लेकिन प्रदेश में जब से योगी जी की सरकार आई है यहां रिकॉर्ड घरों का निर्माण हो रहा है.'

 

पीएम मोदी ने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा, 'जनधन योजना के तहत उत्तर प्रदेश में लगभग 5 करोड़ गरीबों के बैंक खाते खोलकर, 80 लाख से ज्यादा महिलाओं को मुफ्त गैस कनेक्शन देकर, करीब 1.7 करोड़ गरीबों को बीमा कवच देकर, 1.25 करोड़ शौचालय बनाकर, गरीबों को सशक्त करने का काम किया है.'

 

पीएम मोदी ने कहा, 'महापुरुषों के नाम पर राजनीति की जा रही है. समाजवाद और बहुजन की बात करने वालों का सत्ता के प्रति लालच आप देख रहे हैं. कुछ लोगों का मन बंगले पर अटका है. ऐसे लोग जमीन से कट गए हैं. 2 दिन पहले देश में आपातकाल को 43 साल हुए हैं. सत्ता का लालच ऐसा है कि आपातकाल लगाने वाले और उस समय आपातकाल का विरोध करने वाले एक साथ आ गए हैं. ये समाज नहीं, सिर्फ अपने और अपने परिवार का हित देखते हैं.'

 

मगहर में पीएम मोदी ने विपक्षी दलों पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, 'कुछ दलों को शांति और विकास नहीं, कलह और अशांति चाहिए. उनको लगता है जितना असंतोष और अशांति का वातावरण बनाएंगे, उतना राजनीतिक लाभ होगा. सच्चाई ये है ऐसे लोग जमीन से कट चुके हैं इन्हें अंदाजा नहीं कि संत कबीर, महात्मा गांधी, बाबा साहेब को मानने वाले हमारे देश का स्वभाव क्या है.'

 

पीएम मोदी ने कहा, 'ये हमारे देश की महान धरती का तप है, उसकी पुण्यता है कि समय के साथ, समाज में आने वाली आंतरिक बुराइयों को समाप्त करने के लिए समय-समय पर ऋषियों, मुनियों, संतों का मार्गदर्शन मिला. सैकड़ों वर्षों की गुलामी के कालखंड में अगर देश की आत्मा बची रही, तो वो ऐसे संतों की वजह से ही हुआ.'

 

कबीर के दोहों को समझने के लिए किसी शब्दकोष की जरूरत नहीं है. उन्होंने जन-जन तक अपनी बातों को पहुंचाया. उन्होंने कहा था कि जब मैं था तो हरि नहीं, जब हरि था तो मैं नहीं, मतलब अपने अहंकार में डूबा था तब कुछ नहीं दिखा: मगहर में पीएम मोदी

 

कबीर ने जाति-पाति के भेद तोड़े, 'सब मानुस की एक जाति' घोषित किया और अपने भीतर के अहंकार को ख़त्म कर उसमें विराजे ईश्वर का दर्शन करने का रास्ता दिखाया. वे सबके थे, इसीलिए सब उनके हो गए: पीएम मोदी

     

महात्मा कबीर चरणों की धूल से माथे का तिलक बन गए. वो विचार बन कर आए और व्यवहार बन कर अमर हो गए: मगहर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

     

पीएम मोदी ने कहा, कबीर का सारा जीवन सत्य की खोज और असत्य के खंडन में व्यतीत हुआ. कबीर की साधना मानने से नहीं जानने से आरंभ होती है. वो सिर से पैर तक मस्तमौला, स्वभाव के फक्कड़, आदत में अक्खड़, भक्त के सामने सेवक, बादशाह के सामने प्रचंड दिलेर, दिल के साफ, दिमाग के दुरुस्त, भीतर से कोमल बाहर से कठोर थे. वो जन्म के धन्य से नहीं, कर्म से वंदनीय हो गए.'

खबर हटके | और पढ़ें


लखीमपुर खीरी, आपने पुलिस का असलहा गुम होते सुना होगा. वर्दी चोरी होते हुए सुनी होगी. गहने पैसे चोरी करते सुना होगा, पर पुलिस की पगार गुम होने की खबर...

आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क बनवा दी. गर्म चारकोल और कंक्रीट की वजह से कुत्ते की मौके पर ही जान चली गई. पुलिस ने कंस्ट्रक्शन...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 145279