बड़ी ख़बरें

राज्यसभा उप-सभापति पद के लिए कांग्रेस नेता ने की ममता बनर्जी से मुलाकात मायावती विपक्षी एकजुटता से अलग क्‍या अकेले चुनाव लड़ने का मन बना रही हैं? तालिबान ने संघर्षविराम आगे बढ़ाने से इंकार किया, आत्मघाती हमले में 18 की मौत तबाही मचाने के लिए सऊदी अरब ने दागी मिसाइल, दुश्मन देश ने रास्ते में किया नेस्तनाबूद फिल्म 'रेस 3' पर बना एक और VIDEO, हंस-हंसकर हो जाएंगे लोटपोट हनी सिंह के गाने पर इस छोटी सी बच्ची का डांस हो रहा वायरल, क्या आपने देखा VIDEO? 'विरुष्का' पर भड़कीं अरहान सिंह की मां, कहा- पब्लिसिटी के लिए किया स्टंट श्रीलंकाई कप्तान चांडीमल पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप, ICC ने पाया दोषी आज से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर ट्रांसपोर्टर्स, देशभर के कारोबार पर पड़ सकता है असर फिर बढ़ेंगी विजय माल्या की मुश्किलें, एक और चार्जशीट दायर करने की तैयारी में ED

तेलंगाना: विवादों में KCR की 66 करोड़ की इफ्तार पार्टी, हाईकोर्ट में PIL दायर

नई दिल्ली, रमज़ान और ईद के मद्देनज़र तमाम राजनीतिक दलों में इफ्तार पार्टी देने की एक परंपरा सी हो गई है. दरअसल, ऐसा करके ये पार्टियां एक खास वोट बैंक को टारगेट करने की कोशिश करती हैं. ताजा मामला तेलंगाना का है, जहां मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव (KCR) ने सालना आयोजित होने वाली इफ्तार पार्टी में इस साल 66 करोड़ रुपये खर्च करने का ऐलान किया है. हालांकि, कई सामाजिक संगठनों ने केसीआर के इस फैसले पर नाराज़गी जताई है. इसके खिलाफ हाईकोर्ट में एक पीआईएल यानी जनहित याचिका भी दायर की गई है.

बता दें कि केसीआर की 'दावत-ए-इफ्तार' हैदराबाद में दी जाने वाली है. इसमें मुख्यमंत्री, उनकी कैबिनेट के सदस्यों के अलावा शहर के जाने-माने लोगों के हिस्सा लेने की संभावना है. बताया जा रहा है कि हैदराबाद में इफ्तार पार्टी के मुख्य आयोजन के अलावा ग्रेटर हैदराबाद म्युनिसिपल कॉरपोरेशन की ओर से भी एक कार्यक्रम आयोजित होगा.

इसके तहत आने वाली 400 मस्जिदों और राज्य के अन्य जिलों की 400 मस्जिदों में अलग से इफ्तार पार्टी होगी. फिर रमजान गिफ्ट के तौर पर कपड़े भी बांटे जाएंगे. इस सब के लिए तेलंगाना सरकार की ओर से 66 करोड़ रुपये आवंटित किए जाने की बात कही जा रही है.


केसीआर की इफ्तार पार्टी के खिलाफ दायर याचिका में याचिकाकर्ताओं ने मांग राज्य सरकार की ओर से तेलंगाना की अल्पसंख्यक कल्याण योजनाओं का कीमती पैसा इस तरह के आयोजनों पर पानी की तरह बहा कर दुरुपयोग किया जा रहा है. बता दें कि अलग राज्य बनने के बाद से तेलंगाना पर कर्ज का बोझ बढ़ता जा रहा है. मौजूदा वक्त में तेलंगाना का कर्ज 1.80 लाख करोड़ रुपये पहुंच चुका है.

मंगलवार को याचिका पर होगी सुनवाई
केसीआर की इफ्तार पार्टी को लेकर 5 जून को वकील अभिनव की ओर से आंध्र और तेलंगाना हाईकोर्ट का इसी संबंध में दरवाजा खटखटाया गया था. तब हाईकोर्ट ने चीफ जस्टिस ने याचिका को सुनवाई के लिए मंजूर करने से इनकार कर दिया था. साथ ही याची को वैकेशन कोर्ट में जाने के लिए कहा था. अब बताया जा रहा है कि मंगलवार को इस याचिका पर हाईकोर्ट में सुनवाई होगी.

खबर हटके | और पढ़ें


आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

जौनपुर, आपने खाने के शौक़ीन तो बहुत देखे होंगे, लेकिन हम आपको एक ऐसे अजीब इंसान के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसकी पसंद सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. जी हां, जौनपुर का एक शख्स पिछले पंद्रह सालों से प्रतिदिन मिट्टी के साथ चूना खाता चला आ रहा है....

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 135736