बड़ी ख़बरें

आपातकाल विशेष : ...जब प्रधानमंत्री इंदिरा को लगने लगा था 'डर', और मंत्रियों को सताने लगा था गिरफ्तारी का 'खौफ' योगी सरकार पर हमलों में 'लिपटीं' ओम प्रकाश राजभर की चुनावी तैयारियां मुजफ्फरनगर: कबाड़ की दुकान में भीषण विस्फोट, 4 की मौत CM योगी का अयोध्या दौरा, कार्यक्रम स्थल पर लगी 'केसरिया' कुर्सियां पाकिस्तान के नंबरों से आ रहे PORN मैसेज, महिला पहुंची SSP के पास लोकसभा चुनाव से पहले सरकार करती है ज्यादा खर्च, जानें क्या कहते हैं आंकड़े देवगौड़ा की कुमारस्वामी को सलाह, 'कावेरी मुद्दे पर न करें सुप्रीम कोर्ट या केंद्र का विरोध' पासपोर्ट विवादः सुषमा स्वराज ने लाइक किए आलोचकों के ट्वीट, कहा- 'ऐसा सम्मान मिला' AMU और जामिया में दलितों को आरक्षण की वकालत नहीं करता विपक्ष: सीएम योगी मेरठ में सिरफिरे ने की ताबड़तोड़ फायरिंग

भोपाल: देश भर में दहेज के खिलाफ न जाने कितने प्रचार और अभियान चलाए जा रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ इस कुप्रथा से जुड़ी एक वेबसाइट का खुलासा हुआ है जिसमें आप अपनी जाति और प्रोफेशन के हिसाब से आपको कितना दहेज मिल सकता है पता कर सकते हैं. इस वेबसाइट के बारे में कांग्रेस लीडर ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर जानकारी देते हुए पीएमओ से शिकायत भी की है. कांग्रेस के सांसद ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्रालय और पीएमओ कार्यालय से शिकायत करते हुए लिखा है कि किसी ने मुझे इस साइट के बारे में बताया. ये शर्मनाक है. इसके के खिलाफ तुरंत एक्‍शन लेना चाहिए.

बता दें कि डाउरी कैलकुलेटर नाम की इस वेबसाइट में दहेज के रेट बताए जा रहे हैं. साइट में आईएएस से लेकर बेरोजगार तक 13 कैटेगिरी में  बांटा गया है. अगर किसी की सैलरी 20000 से ज्‍यादा या कम है तो उसे 15 लाख तक दहेज मिलने की कैटगरी में बताया जा रहा है. देश में ऐसी मानसिकता का होना सच में शर्म की बात है. 

खबर हटके | और पढ़ें


त्य्र

...

फ्द्ग्फ्ग्द

...

ग्ज्ग्फ्ज

...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 139548