बड़ी ख़बरें

लखनऊ विश्वविद्यालय मामला : राज्यपाल से मिला सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल इस मामले में शाहरुख पर बिल्कुल भरोसा नहीं करतीं गौरी खान! तीसरे टी20 में रोहित शर्मा नहीं, 18 गेंदों ने किया इंग्लैंड का 'काम-तमाम'! थाईलैंडः बौद्ध भिक्षु रह चुका है गुफा में फंसा कोच, बच्चों को इतने दिन यूं रखा जिंदा ब्रिटेन में घर मेरे नाम पर नहीं, कोई इन्‍हें छू भी नहीं सकता: विजय माल्‍या कुख्यात डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या, योगी ने दिए न्यायिक जांच के आदेश बुरहान की दूसरी बरसी पर हिज्बुल में शामिल हुआ IPS ऑफिसर का भाई, मेडिकल की कर रहा था पढ़ाई नाम में क्‍या रखा है? इन आशा वर्कर्स से पूछिए जो इसी नाम का कंडोम बांटती हैं तो ऐसे प्रेम प्रकाश सिंह बन गया माफिया डॉन 'मुन्ना बजरंगी', ये अब तक की 'पूरी कहानी' द. कोरियाई राष्ट्रपति के साथ आज नोएडा आ रहे पीएम मोदी, देंगे सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री की सौगात

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार में पहले मंत्रिमंडल फेरबदल को लेकर लखनऊ के सत्ता के गलियारे में चर्चाएं तेज हैं. इस बीच मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की दिल्ली में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के शीर्ष नेतृत्व से बैठक और लखनऊ में संघ की समन्वय बैठक के बाद पता चला है कि यूपी के कुछ मंत्रियों की छुट्टी तय हो गई है. यही नहीं संघ की तरफ से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मिशन 2019 में यूपी से नेतृत्व करने की भी पूरी छूट दे दी गई है.

इस बैठक में संघ की तरफ से कुछ मंत्रियों के कामकाज और आचार विचार पर सवाल उठाए गए. वहीं खुद सीएम योगी की तरफ से भी कुछ मंत्रियों की कार्यप्रणाली पर असंतोष जाहिर किया गया. पता चला है कि संघ ने इस फेरबदल को मंजूरी दे दी है. वहीं संघ की तरफ से मुख्यमंत्री योगी को भी हिदायत दी गई है कि सरकार के काम में तेजी जमीन पर दिखनी चाहिए.

इस दौरान बीजेपी के खिलाफ यूपी में सपा और बसपा व अन्य पार्टियों के खड़े हो रहे गठबंधन की गुंजाइशों और जमीनी पकड़ पर भी गहन चर्चा की गई. इस दौरान सरकार और संगठन के बीच समन्वय पर भी गंभीर चर्चा हुई. संघ की तरफ से मुख्यमंत्री योगी को कहा ​गया कि 2019 के लोकसभा चुनाव की तैया​री में जुट जाइए. खुलकर निर्णय लीजिए.

यही नहीं संघ की तरफ से निर्देश दिए गए कि सरकार को हिंदुत्व के एजेंडे पर वृहद स्तर पर कार्य करना है, इसमें सबसे ज्यादा फोकस दलितों और पिछड़ी जातियों पर होना चाहिए. मंत्रियों के फेरबदल से लेकर इस वर्ग को तमाम योजनाओं में विशेष तौर पर तरजीह दी जाए. यही नहीं 2019 लोकसभा चुनाव से पहले होने वाले कुंभ को भी इस एजेंडे में शामिल किया जाए. कुंभ को लेकर विकास कार्य वल्र्ड क्लास का कराया जाए, यही नहीं प्रदेश के हर गांव से लोगों को कुंभ तक लाने की रणनीति बनाई जाए.

दरअसल मंगलवार का पूरा दिन संघ और यूपी सरकार व बीजेपी के बीच बैठकों के ही नाम रहा. एक तरफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिल्ली में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत व संघ के अन्य प्रमुख नेताओं से मुलाकात की. उधर दूसरी तरफ 2019 के लोकसभा चुनावों को लेकर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की समन्वय बैठक लखनऊ के निरालानगर स्थित सरस्वती कुंज में हुई. इस बैठक में आरएसएस के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले ने बीजेपी और अन्य अनुषांगिक संगठनों से जुड़े पदाधिकारियों के साथ बैठक की. इस बैठक में काशी, गोरखपुर, कानपुर-बुंदेलखंड, अवध प्रांत के पदाधिकारी और संगठन मंत्री भी हिस्सा लिए.  इस बैठक में देर शाम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी पहुंचे और बैठक को लेकर दत्तात्रेय होसबोले से मंत्रणा की.



खबर हटके | और पढ़ें


लखीमपुर खीरी, आपने पुलिस का असलहा गुम होते सुना होगा. वर्दी चोरी होते हुए सुनी होगी. गहने पैसे चोरी करते सुना होगा, पर पुलिस की पगार गुम होने की खबर...

आगरा, उत्तर प्रदेश के आगरा में सड़क निर्माण में भयंकर लापरवाही का मामला सामने आया है. यहां कंस्ट्रक्शन कंपनी के कर्मचारियों ने एक सोते हुए कुत्ते के ऊपर ही सड़क बनवा दी. गर्म चारकोल और कंक्रीट की वजह से कुत्ते की मौके पर ही जान चली गई. पुलिस ने कंस्ट्रक्शन...

फैजाबाद, फैजाबाद जिला अस्पताल की एक तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जिसको देखकर आपको लगेगा कि मानवों में भले ही मानवता कम होती जा रही है लेकिन मवेशियों में मानवता अभी भी बरकरार है. फैजाबाद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के सामने पड़े एक घायल पर आने जाने वाले लोगों...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 144362