बड़ी ख़बरें

बीजेपी हेडक्वार्टर लाया गया वाजपेयी का पार्थिव शरीर, शाम 4 बजे होगा अंतिम संस्कार अटल बिहारी वाजपेयी के सम्मान में सुप्रीम कोर्ट में आज 1 बजे तक ही होगा कामकाज 7 दशक तक लखनऊ की 'रगों' में 'बहते' रहे अटल, हर सड़क पर बिछी हैं यादें अटल जी के निधन के शोक में आज यूपी में सार्वजनिक अवकाश, बाजार भी रहेंगे बंद पाकिस्‍तान भी होगा अटल जी के अंतिम संस्‍कार में शामिल, यह नेता करेगा शिरकत भारत-पाक संबंधों के सुधार के लिए वाजपेयी जी के प्रयासों को हमेशा याद किया जाएगा : इमरान खान पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन, शोक में डूबा देश एम्स में पूर्व PM वाजपेयी को देखने पहुंचे वेंकैया नायडू-अमित शाह, हालत बेहद नाजुक अटल बिहारी वाजपेयी को देखने AIIMS पहुंच सकते हैं सीएम योगी आदित्यनाथ देवरिया शेल्‍टर होम: SP देवरिया के साथ हटाए गए CO सदर, विभागीय जांच के आदेश

शामली, समाजवादी पार्टी ने मंगलवार को मुजफ्फरनगर दंगे को लेकर सपा मुखिया अखिलेश यादव पर दिए सीएम योगी के बयान पर पलटवार किया है. शामली में सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल और सपा प्रतिपक्ष नेता रामगोविंद चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री के आरोप पूरी तरह गलत हैं. उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री पर खुद सांप्रदायिक दंगा कराने के आरोप में मुकदमे दर्ज हैं. उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह केवल हिन्दू-मुस्लिम को आपस मे लड़ाने की राजनीति करती है. बीजेपी केवल मानव की लाश पर राजनीति करती है, जबकि सपा भाईचारे की राजनीति करती है.

बता दें इससे पहले मंगलवार को कैराना लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी प्रत्याशी मृगांका सिंह के लिए प्रचार करने सहारनपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा. मुख्यमंत्री ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि वे कैराना में चुनाव प्रचार करने का दम नहीं रखते हैं क्योंकि उनके ऊपर मुजफ्फरनगर दंगों का दाग है, उनके हाथ दंगों के खून से सने हैं.

नकुड़ विधानसभा के अंबेहटा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने मुजफ्फरनगर दंगे और कैराना पलायन का मुद्दा जोर-शोर से उठाया. उन्होंने कहा कि स्वर्गीय बाबू हुकुम सिंह की पहल से ही कैराना पलायन का मुद्दा सामने आया था. जिसके बाद बीजेपी की सरकार में कानून-व्यवस्था दुरुस्त की गई. सीएम योगी ने कहा कि अखिलेश यादव अपना प्रत्याशी उधार दे सकते हैं, लेकिन क्षेत्र में चुनाव प्रचार करने की हिम्मत उनमें नहीं है.

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कैराना का उपचुनाव 2019 का आईना होगा. उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि वे विपक्ष के बहकावे में नहीं आएं. विपक्ष अफवाह फैलाने का काम कर रहा है. सूबे की सरकार किसानों और नौजवानों के विकास के लिए सार्थक कदम उठा रही है.

उन्होंने कहा कि बीजेपी की ही सरकार में जाति-मजहब से ऊपर उठ देश और प्रदेश का सर्वांगीण विकास हो रहा है. योगी ने कहा कि उनकी सरकार किसानों के साथ अन्याय व अत्याचार नहीं होने देगी. हमारी सरकार युवाओं को रोजगार दे रही है. पिछली सरकार ने चीनी मिलें बंद की. हम इन मिलों को वापस चालू करवाएंगे. सीएम योगी ने कहा कि अखिलेश के हाथ मुजफ्फरनगर दंगों के खून से रंगे है. वह दूसरों के कंधों पर बंदूक रखकर चला रहे हैं. ऐसा करने वालों को चुनाव में कड़ा जवाब देना है.

खबर हटके | और पढ़ें


त्य्र

...

फ्द्ग्फ्ग्द

...

ग्ज्ग्फ्ज

...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 26692