बड़ी ख़बरें

लखनऊ विश्वविद्यालय मामला : राज्यपाल से मिला सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल इस मामले में शाहरुख पर बिल्कुल भरोसा नहीं करतीं गौरी खान! तीसरे टी20 में रोहित शर्मा नहीं, 18 गेंदों ने किया इंग्लैंड का 'काम-तमाम'! थाईलैंडः बौद्ध भिक्षु रह चुका है गुफा में फंसा कोच, बच्चों को इतने दिन यूं रखा जिंदा ब्रिटेन में घर मेरे नाम पर नहीं, कोई इन्‍हें छू भी नहीं सकता: विजय माल्‍या कुख्यात डॉन मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या, योगी ने दिए न्यायिक जांच के आदेश बुरहान की दूसरी बरसी पर हिज्बुल में शामिल हुआ IPS ऑफिसर का भाई, मेडिकल की कर रहा था पढ़ाई नाम में क्‍या रखा है? इन आशा वर्कर्स से पूछिए जो इसी नाम का कंडोम बांटती हैं तो ऐसे प्रेम प्रकाश सिंह बन गया माफिया डॉन 'मुन्ना बजरंगी', ये अब तक की 'पूरी कहानी' द. कोरियाई राष्ट्रपति के साथ आज नोएडा आ रहे पीएम मोदी, देंगे सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री की सौगात

नई दिल्ली, जम्मू-कश्मीर में रविवार को अलगाववादियों ने आतंकवादी बुरहान वानी के मौत की दूसरी बरसी मनाई. इस मौके पर आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन ने हाल ही में शामिल हुए 32 नए आतंकियों की तस्वीर जारी की है. इनमें कश्मीर के रहने वाले एक आईपीएस ऑफिसर का भाई भी शामिल है, जो मेडिकल की पढ़ाई कर रहा था. इस आतंकी की पहचान शमसुल हक मेंगनू के रूप में हुई है. जानकारी के मुताबिक, शमसुल बैचलर आफ यूनानी मेडिसन एंड सर्जरी (बीयूएमएस) का स्टूडेंट है.

हिज्बुल मुजाहिदीन ने रविवार को जो फोटो जारी की है, उसमें शमसुल एके-47 राइफल के साथ दिख रहा है. उसे हिज्बुल में कमांडर बनाया गया है. बुरहान वानी की बरसी पर भर्ती किए गए नए आतंकियों की तस्वीरें जारी कर हिज्बुल ने यह बताने की कोशिश की है कि बुरहान उनका हीरो था. हिज्बुल ने अपने इस नए रंगरूट को 'बुरहान सानी' या 'बुरहान-2' कोड नेम दिया है.

शोपियां जिले का रहने वाला शमसुल हक श्रीनगर के जकूरा के सरकारी कॉलेज में बीयूएमएस का स्टूडेंट रह चुका है. वह मई में घर से लापता हो गया था. शमसुल हक मेंगनू के भाई इनामुल हक 2012 बैच के आईपीएस ऑफिसर हैं. फिलहाल वो नॉर्थ ईस्ट में तैनात हैं.

इससे पहले रविवार को डोडा जिले के आबिद भट नाम के युवक के भी आतंकियों के साथ जाने की आशंका जताई गई. इस मामले में डोडा के एसएसपी का कहना है, 'हमें सोशल मीडिया के जरिए जानकारी मिली है कि 30 जून से लापता आबिद भट नाम के शख्स ने आतंकी संगठन का रुख किया है.'

वहीं, अप्रैल में शोपियां जिले से मीर इदरीश सुल्तान नाम का एक सिपाही गायब हो गया था. बाद में सामने आया कि वह जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया था.

बता दें कि दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के कोकरनाग इलाके में 8 जुलाई 2016 को हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने त्राल के रहने वाले वानी को मार गिराया था. उसकी मौत के बाद घाटी में बड़े पैमाने पर हिंसक प्रदर्शन हुए और लंबे समय तक कर्फ्यू लगा रहा था. करीब चार महीने तक चले विरोध प्रदर्शनों के दौरान सुरक्षाबलों और प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़पों में करीब 85 लोगों की जान गई थी.
 

खबर हटके | और पढ़ें


त्य्र

...

फ्द्ग्फ्ग्द

...

ग्ज्ग्फ्ज

...

वीडियो | और पढ़ें


Copyright © 2017 Indian Live 24 Limited.
Visitors . 144377